Musafir hindi

किताबो का सफरनामा

हैल्लो दोस्तो, आज हम बात करेंगे गेम ऑफ थ्रोन एक एपिक नॉवेल सीरीज़ के लेखक जिऑर्ज आर. आर. मार्टिन के बारे में। जिनको प्यार से GRRM से भी जाना जाता है। जिन्होंने A Song of Ice and fire लिखा जो बाद में Game of thrones के नाम से प्रख्यात हुई। मार्टिन का जन्म 20 सितंबर 1948 में हुआ था। वे अमरीका के फेमस नॉवेलिस्ट है जो एक शॉर्ट स्टोरी राइटर, Screenwriter और टेलीविजन प्रोड्यूसर है।

मार्टिन के पिता का नाम लौंगशोरमेन था। वे एक मजदूर थे। उनके माता की फैमिली रिच थी लेकिन डिप्रेसन के चलते उनकी ये अमीरी ढल गयी। मार्टिन की दो बहनें भी थी। उनको फ्रेंच,इंग्लिश,वेल्श और जर्मन भाषा भी आती है जिसे हम finnding your roots टी.वी. सिरीज़ में देख सकते है। पहले वे अपनी दादी के वहां रहते थे लेकिन बाद में 1953 में वे Federal housing project के तहत रहने चले गए। बचपन से ही उनको लिखने का बेहद शोख था। वे अपने पड़ोसी दोस्तो को अपने द्वारा लिखी मॉन्स्टर की कहानी पढ़ने को देते थे। मार्टिन ने हाई स्कूल में अपनी पढ़ाई की जहाँ से उनको कॉमिक बुक पढ़ने में रुचि हुई जो कि सुपरहीरो के बारे में जो कि मार्वल कॉमिक्स पब्लिकेशन से थी। मार्टिन स्टेन ली से बेहद प्रभावित थे। उन्होंने कहा था कि वे स्टेन ली से बेहद प्रभावित थे शायद शेक्सपियर और टॉकीन से भी ज्यादा।

मार्टिन 1971 में अंग्रेजी साहित्य और जर्नलिस्म में स्नातक हुए। मार्टिन को भी सफलता सरलता से न मिली थी। उन्होंने स्नातक होने के बाद भी करीब 13 साल तक लिखना जारी रखा। 1983 में उनके द्वारा लिखी गई चौथी किताब The Armageddon Rag रिलीज़ हुई जो बहोत ही बुरी तरह असफल रही जिसने मार्टिन का राइटिंग करियर समाप्त कर दिया। लेकिन मार्टिन ने हार नही मानी थी। उन्होंने टी. वी. शो के लिए लिखना शुरू कर दिया लेकिन शायद किस्मत उनके धैर्य को आज़माना चाहती थी। 2 बार टी. वी. शो केंसल कर दिए गए। फिर भी मार्टिन के लिखने का जुनून कभी कम नही हुआ। उन्होंने करीब 10 साल तक छोटे मोटे असाइनमेंट लिखे। जिसके बाद 1991 में फिर से अपने सपने की और बढ़े और नावेल लिखना शुरू किया। फिर आयी Game Of Thrones जो 1996 में रिलीज़ हुई हालांकि ये अपना कमाल न दिखा पाई। लेकिन फंतासी नॉवेल पढ़ने वाले रीडर्स के दिल मे छाप छोड़ गई। 5 साल बाद भी उनके फैंस उन्हें भूले नही थे जब 1999 में उनकी दूसरी किताब रिलीज़ हुई तो ये किताब वीकली बेस्ट सेलर में शामिल हो गई।

मार्टिन के राइटिंग करियर की शुरुआत प्रोफेशनली महज 21 साल की उम्र में हुई जब उनकी एक शोर्ट स्टोरी लिखी। उनकी पहली सेल The Hero थी जो फरवरी 1971 में गैलेक्सी मेगेज़ीन द्वारा प्रकाशित हुई। उनकी किताब जो कि पहली बार With morning comes mistfalls जो कि नॉमिनेट हुई थी Hugo Award और Nebula Award के लिए जो कि 1973 में एनालॉग मेगेज़ीन में प्रकाशित हुई थी।

2005 में उनको लेव ग्रॉसमेन ऑफ टाइम ने मार्टिन को The American Tolkien कहा। 2005 के आते उनको कई अवार्ड्स मिल चुके थे। मार्टिन के मुताबिक उन्होंने उस 10 सालो में बहुत कुछ सीखा। जैसे कि डायरेक्टर किस तरह की कहानी चाहता है, राइटर को कैसे डायलॉग लिखने चाहिए, किस तरह का कॉन्सेप्ट होना चाहिए। उनकी लाइफ आसान नही थी। उन्होंने अपने लेखन को कभी नही छोड़ा। उनका खुद पर विश्वास ही था जिसने उनको इस मुकाम पर लाया की उनकी 10 करोड़ से भी ज्यादा प्रतियाँ बिकी और उनकी नेट वर्थ करीबन 90 करोड़ हुई। हालांकि उनके पास एक अच्छा कम्प्यूटर भी नही था। एक बेसिक कम्प्यूटर जो e-mail तक नही भेज सकता था। लेकिन वो लिख सकता था जिसका नतीजा हमारे सामने है। मार्टिन ने कभी हार नही मानी उनका कहना था कि अगर गेम ऑफ थ्रोन्स नही चलती तो उनकी कोई और किताब चलती क्योकि उनको खुद पर विश्वास था।

2011 में मार्टिन को प्रभावशाली जो कि दूसरों को प्रभावित कर की 100 की लिस्ट में शामिल किया गया था। उनको कई अवॉर्ड्स भी मिल चुके है Hugo Awards for best novel, Locus award for the best novel, Nebula award for the best novelette, Inkpot award, Bram stocker award, World fantasy award, Premio ignotus for best foreign novel, goodread choice award best fantasy, Primetime Emmy award, An post international recognition award.
दोस्तो मार्टिन ने अपने जीवन मे ऐसी कई उपलब्धियां पाई, क्योकि उसे खुद पर विश्वास था। आत्मविश्वास अगर हो खुद पर तो क्या मजाल असफलता की के वो आपको रोक पाए। धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *